श्री गणेश मंत्र || Shri Ganesh Mantra || Lord Ganesha Mantra

कार्य के प्रारंभ में भगवान श्री गणेश जी को प्रसन्न करने का मंत्र || 




ऊँ वक्रतुण्ड महाकाय सूर्य कोटि समप्रभ । निर्विघ्नं कुरू मे देव, सर्व कार्येषु सर्वदा ॥
ऊँ एकदन्ताय विहे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्तिः प्रचोदयात् ॥

.श्री गणेश बीज मंत्र ||

“ऊँ गं गणपतये नमो नमः ।”

“ॐ गं गणपतये नमः ।”षडाक्षर गणेश मंत्र || 

Shodashakshari Shri Ganesh Mantra :

“ॐ वक्रतुंडाय हुम्‌”

इस षडाक्षर Ganesh Mantra का जप आर्थिक प्रगति व समृद्धि प्रदायक है.गायत्री गणेश मंत्र || 

Gayatri Ganesh Mantra :

ॐ एकदंताय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात् ॥

ॐ महाकर्णाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात् ॥

ॐ गजाननाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात् ॥

शुभ लाभ गणेश मंत्र || Shubh Labh Ganesh Mantra :

ॐ श्रीं गं सौभाग्य गणपतये वर्वर्द सर्वजन्म में वषमान्य नम:।।सिद्धि की प्राप्ति के श्री गणेश मंत्र || 

Siddhi Ki Prapti Ke Shri Ganesh Mantra :

श्री वक्रतुण्ड महाकाय सूर्य कोटी समप्रभा निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्व-कार्येशु सर्वदा ॥

मंगल विधान व विघ्नों के नाश हेतु गणेश मंत्र ||


गणपतिर्विघ्नराजो लम्बतुण्डो गजाननः ।

द्वैमातुरश्च हेरम्ब एकदन्तो गणाधिपः ॥

विनायकश्चारुकर्णः पशुपालो भवात्मजः ।

द्वादशैतानि नामानि प्रातरुत्थाय यः पठेत्‌ ॥

विश्वं तस्य भवेद्वश्यं न च विघ्नं भवेत्‌ क्वचित्‌ ।

“ॐ गं नमः”

“गं क्षिप्रप्रसादनाय नम:” ( आलस्य, निराशा, कलह, विघ्न दूर करने के लिए विघ्नराज रूप की आराधना का यह मंत्र जपें उच्छिष्ट गणपति का मंत्र |
“ॐ हस्ति पिशाचि लिखे स्वाहा !”

रोजगार की प्राप्ति व आर्थिक वृद्धि के लिए श्री गणेश मंत्र

ॐ श्रीं गं सौभ्याय गणपतये वर वरद सर्वजनं में वशमानय स्वाहा।

मोहन गणेश मंत्र || Mohan Shri Ganesh Mantra :

ॐ वक्रतुण्डैक दंष्ट्राय क्लीं ह्रीं श्रीं गं गणपते वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा।तांत्रिक गणेश मंत्र ||

 Tantrik Ganesh Mantra :

ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।

ग्लौम गणपति, ऋद्धि पति, सिद्धि पति। करों दूर क्लेश।।कुबेर गणेश मंत्र || 

Kuber Ganesh Mantra :

ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।वक्रतुण्ड गणेश मंत्र ||

 Vakratunda Ganesh Mantra :

वक्रतुण्ड महाकाय कोटिसूर्य समप्रभ।

निर्विघ्नं कुरू मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा।।

Read more : Shri Ganesh Stuti

Post a Comment

Help us to Build Neat & Clean Content.if you have any information or useful content related to this site. Please Let us know and we are happy to update our content or Publish new Content on this website.

और नया पुराने