[Shiv Bhajan Lyrics ] शंकर मेरा प्यारा...माँ री माँ मुझे मूरत ला दे! -Shankar Mera Pyara





शंकर मेरा प्यारा, शंकर मेरा प्यारा।
माँ री माँ मुझे मूरत ला दे, शिव शंकर की मूरत ला दे,
मूरत ऐसी जिस के सर से निकले गंगा धरा॥

माँ री माँ वो डमरू वाला, तन पे पहने मृग की छाला।
रात मेरे सपनो में आया, आ के मुझ को गले लगाया।
गले लगा कर मुझ से बोला, मैं हूँ तेरा रखवाला॥
॥ शंकर मेरा प्यारा, शंकर मेरा प्यारा...॥

माँ री माँ वो मेरा स्वामी, मैं उस के पट की अनुगामी।
वो मेरा है तारण हारा, उस से मेरा जग उजारा।
है प्रभु मेरा अन्तर्यामी, सब का है वो रखवाला॥
॥ शंकर मेरा प्यारा, शंकर मेरा प्यारा...॥

शंकर मेरा प्यारा, शंकर मेरा प्यारा।
माँ री माँ मुझे मूरत ला दे, शिव शंकर की मूरत ला दे,
मूरत ऐसी जिस के सर से निकले गंगा धरा॥

Credit 
Shiv Bhajan: Shankar Mera Pyara 
Album Name: Maha Shiv Jagaran - Vol.2
Singer: Anuradha Paudwal
Music Director: Durga Prasad
Lyricist: Ashish Chandra

Music Label:T-Series

           

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां