कृष्णा कृष्णा आए कृष्णा जगमग हुआ रे अंगना- krishna krishna aaye krishna jagmag huaa re angna


कृष्णा कृष्णा आए कृष्णा, जगमग हुआ रे अंगना।
चाँद सूरज सितारे, झुके चरणों में सारे,
आज झूम झूम गाए यमुना॥

नयन चाहिए राधा जी के, मीरा का मन मतवाला,
कण कण में फिर नन्द का लाला, हो जो देखने वाला।

माँगना क्या इस द्वार पे आकर आँचल क्या फैलाना,
तेरे मन में क्या है, उसने बिन मांगे सब जाना।

अंत में सत्य की जीत हुई है, झूठ हमेशा हारा,
चक्र उठा के हाथ में तुने, बदली समय की धारा।

credit
singer:-Lata Mangeshkar,nitin mukesh


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां