हो जो नज़रे करम आपकी- ho jo najare karam apki

हो जो नजरें करम आपकी, फिर नहीं डर है संसार की ,

credit
singer:-Rupesh chaudhary

एक नजर दास पर हो कभी, फिर नहीं डर हे संसार की
कोई दाता है तुझसा नहीं, दिन मुझसा है कोई नहीं,
अब तो तेरे सिवा इस जहाँ में है किसी पर भरोसा नही
तेरे हाथों में है जिन्दगी
फिर नही डर है--------
चाहे कितना भी करके जतन, कोई भी साथ जाता नहीं,
मौत जब सामने होगी तेरे, कोई भी रोक पाता नहीं,
गर हो सच्ची तेरी बंदगी
फिर नही डर है--------
कल पे बातों ना छोड़ो 'फणि' कल पे कुछ जार चलता नहीं
वक्त से पहले किस्मत से ज्यादा माँगने पे भी मिलता नहीं
है ये जीवन बड़ा कीमती
फिर नही डर है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां