Subscribe Us

आरती: श्री गणेश जी - shri ganesh ji ki aarti

भगवान श्रीगणेशजी की आरती - Shri Ganesh ji ki aarti


जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ॥ जय...॥

एकदंत, दयावंत, चारभुजा धारी।
माथे सिंदूर सोहे मूसे की सवारी ॥ जय...॥

अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया।
बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया ॥ जय...॥


पान चढ़े, फूल चढ़े और चढ़े मेवा।
लडुअन का भोग लगे, संत करे सेवा ॥ जय...॥

दीनन की लाज रखो, शंभु सुतकारी।
कामना को पूर्ण करो जाऊं बलिहारी ॥ जय...॥


           





______________________________________________________________________________

shri ganesh ji ki aarti,jai ganesh ki aarti,shree ganesha deva shree ganesha deva,mata jaki parvati pita mahadeva

Shri ganesh ji ki aarti







टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां